कोरोना के बाद स्कूल खोलने पर प्रधानमंत्री को पत्र लिखिए

पीएमओ ऑफिस
दिल्ली।

दिनांक – 12/05/20**

सेवा में,
श्रीमान प्रधानमंत्री जी,
दिल्ली।

महोदय,
देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी को मेरा प्रणाम।

निवेदन इस प्रकार है कि मैं यश गुप्ता कक्षा 7वीं का छात्र हूं। मैं दिल्ली के आदर्श नगर में रहता हूं।
जैसा कि आप जानते हैं कि कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते पिछले दो सालों से हमारे स्कूल बंद थे। तब से हम घर पर रहकर केवल ऑनलाइन माध्यमों से ही पढ़ाई कर रहे हैं। और अब जब कोरोना का खतरा धीरे-धीरे कम हो रहा है, तो अब स्कूल खोलने की बात की जा रही है।

महोदय, इसी बात पर मेरा आपसे निवेदन है कि कृपया स्कूल खोलने से पहले हम बच्चों की सेहत के विषय में विचार कर लिया जाए। क्योंकि आप जानते हैं कि कोरोना की पहली लहर जहां बूढ़े और दूसरी लहर जवान व्यक्तियों के लिए एक जानलेवा खतरा बनकर आई थी। तो वहीं स्वास्थ्य जानकारों का कहना है कि कोरोना की तीसरी लहर बच्चों के लिए जानलेवा है। साथ ही जहां भारत समेत सम्पूर्ण दुनिया में 18+ के लिए वैक्सीन तैयार की गई हैं।

ऐसे में बिना वैक्सीन के बच्चों का स्कूल जाना किसी खतरे से कम नहीं होगा। लेकिन फिर भी यदि स्कूल खोलने पर विचार किया जा रहा है, तो मेरा आपसे विनम्र निवेदन है कि स्कूलों में सैनिटाइजेशन की उचित व्यवस्था हो और दो गज दूरी, मास्क है जरूरी का कड़ाई से पालन करवाया जाए। हम बच्चे देश का भविष्य है, ऐसे में यदि हम स्वस्थ होंगे। तभी देश का भविष्य भी सुरक्षित रहेगा।

धन्यवाद

प्रार्थी
यश गुप्ता
दिल्ली।


Rate this post
अपने दोस्तों को share करे:

Leave a Comment