विदेश यात्रा पर जाने वाले मित्र को उसकी मंगल कामना करते हुए एक पत्र लिखिए।

21, बसंत बिहार,
नई दिल्ली।

दिनांक – 7/05/20**

प्रिय मित्र सुभाष,

प्रिय मुझे तुम्हारा पत्र मिला। जिसके माध्यम से मुझे यह जानने का अवसर प्राप्त हुआ कि शिक्षा मंत्रालय ने आपको रसायन शास्त्र में विशेष अनुसंधान के लिए छात्रवृत्ति प्रदान की है और उसी संबंध में 30 तारीख को आप अमेरिका जा रहे हैं। इसके लिए मैं आपको हार्दिक बधाई देता हूं और आपकी विदेश यात्रा के लिए विशेष मंगल कामना करता हूं। प्रभु से मेरी प्रार्थना है कि वे आपकी इस यात्रा को निर्विघ्न, आनंदमय और सुखद करें।

मित्रवर, साथ ही मेरी आकांक्षा है कि आप अपने अध्ययन काल में अमेरिका में भारतीय संस्कृति के संदेश वाहक के रूप में भी कार्य करें। आपका प्रत्येक आचरण व चेष्टा भी भारतीयता के अनुकूल हों, जिससे कि अमेरिका वासी भारतीय संस्कृति के गौरव के सामने नत मस्तक हों।

एक बार पुन: आपकी यात्रा के लिए मंगल कामना करता हूं।

तुम्हारा प्रिय मित्र
शरद
कमला नगर, जयपुर।

Rate this post
अपने दोस्तों को share करे:

Leave a Comment