पूजा में बुलाने का निमंत्रण पत्र लिखिए।

54, कृष्णा नगर
गुड़गांव।

दिनांक:- 4/02/2021

प्रिय अंकल जी।
आशा करता हूं कि आपका और आंटी का स्वास्थ्य अच्छा होगा। मुझे आपका पत्र प्राप्त हुआ था, जिसमें आपने मुझसे मेरी नौकरी के विषय में हाल चाल पूछा था। परंतु मैं आपके पत्र का उत्तर नहीं दे पाया था। इसलिए आज मैंने आपको यह पत्र लिखा है। मेरी नौकरी तो अच्छी चल रही है, और साथ ही मैं आपको एक खुशखबरी भी देना चाहता हूं। अंकल जी! मैंने दिल्ली में अपना खुद का एक फ्लैट ले लिया है। जिसमें मैं मम्मी, पापा और छोटी भाई साथ रह रहे हैं। जहां अगले हफ्ते हमने एक पूजा का आयोजन कराया हैं। जिसके लिए मैं आपको निमंत्रण देना चाहता हूं। जहां आप हमारे नए घर में होने वाली इस पूजा में परिवार समेत सम्मिलित होकर हमें कृतार्थ करें।

मुझे याद है कि हम पहले जहां रहते थे, वहां आप और हम करीब 10 सालों तक पड़ोसी रहे। आपने हमेशा परेशानी में मेरी और मेरे परिवार वालों की मदद की है। ऐसे में आपका एहसान मुझे सदैव स्मरण रहेगा। अब जब मैं अपने पैरों पर खड़े होकर कुछ नए काम की शुरुआत करने जा रहा हूं। तो मैं आपसे आशा करता हूं कि आप मेरी सफलता में भागीदारी बनें और अपना कीमती आशीर्वाद सदा ही मुझपर बनाए रखें।

आपका अपना,
विक्रम।

चांदनी चौक,
दिल्ली।


Rate this post
अपने दोस्तों को share करे:

Leave a Comment