अपने क्षेत्र में प्रदूषण से उत्पन्न स्थिति का वर्णन करते हुए किसी दैनिक समाचार पत्र के संपादक को एक पत्र लिखिए।

सेवा में,
श्रीमान संपादक महोदय
दैनिक भास्कर
गजरौला, उत्तर प्रदेश।

दिनांक :- 12/04/2021

महोदय,
निवेदन इस प्रकार है कि मैं राम कुमार होली चौराहे का निवासी हूं। मैं आपका ध्यान इस बात की ओर आकर्षित करना चाहता हूं कि हमारे क्षेत्र के आसपास काफी सारी फैक्ट्रियां हैं। जहां से रासायनिक पदार्थ नालियों और बड़े बड़े नालों के माध्यम से बहकर सड़क की ओर आ जाते हैं। जोकि क्षेत्र के निकट प्रदूषण फैला रहे हैं। इतना ही नहीं, फैक्ट्रियों से निकलने वाली गैस और शोर भी वातावरण के माहौल को बिगड़ रहे हैं। इस वजह से क्षेत्र के लोगों में भी दूषित पानी और हवा के कारण कई सारी बीमारियों पनप रही हैं। लोग डेंगू, हैजा, मलेरिया, बुखार, खांसी, दमा इत्यादि की गिरफ्त में आ रहे हैं। तो वहीं छोटे बच्चे और बुजुर्ग भी प्रदूषण के कारण घर से बाहर निकलने में कतरा रहे हैं। जिस कारण इलाके में दहशत का माहौल बना हुआ है। साथ ही बढ़ता प्रदूषण ना केवल लोगों को बल्कि पर्यावरण के लिए भी हानिकारक हो चुका है। ऐसे में मेरा आपसे विनम्र निवेदन है कि प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए आवश्यक कदम उठाएं। ताकि क्षेत्रवासी समेत पर्यावरण को प्रदूषण के दूषित प्रभावों से बचाया जा सके।

धन्यवाद

प्रार्थी,
राम कुमार।

अपने दोस्तों को share करे:

Leave a Comment