पुलिस अधीक्षक को अपने क्षेत्र में बढ़ रही नशे की प्रवृत्ति की रोकथाम के लिए सुझाव देते हुए पत्र लिखिए।

सेवा में,

श्रीमान पुलिस अधीक्षक,
रमेश नगर, बलिया
उत्तर प्रदेश।

महोदय,
निवेदन इस प्रकार है कि मैं रमेश नगर का निवासी हूं। मैं आपका ध्यान हमारे क्षेत्र के युवाओं में बढ़ रही नशे की प्रवृत्ति की रोकथाम की ओर आकर्षित करना चाहता हूं।

महोदय, हमारे क्षेत्र में बीते कई दिनों से युवाओं का जमघट लगा रहता है। जोकि कॉलोनी के बाहर खड़े होकर नशीले पदार्थों का सेवन करते हैं। इतना ही नहीं, कॉलोनी की लड़कियां यहां तक की महिलाएं भी इस कारण से घरों से बाहर निकलने से डरती है। मैंने इस बारे में कॉलोनी के सेक्रेटरी से भी बात की थी। लेकिन उन्होंने कहा कि इस उम्र में यह आम बात है।

लेकिन महोदय, आधुनिक युवा पीढ़ी ही भावी भविष्य की कर्णधार है। इन्हीं के कंधों पर देश का भविष्य निर्भर करता है। ऐसे में यदि यह नशे की आदी हो जाएगी तब इनके साथ-साथ समाज और संस्कृति दोनों का ही विनाश तय है।

इसके साथ ही आपको बताना चाहूंगा कि हमारे कॉलोनी के बच्चे शुरुआत से ऐसे नही थे। जब से कॉलोनी के बाहर दो तीन खुरापाती लड़कों ने आना शुरू किया है, तब से वह लोग भी उनकी संगति में आकर बिगड़ गए है। वह सुबह होते ही घरों से निकल जाते हैं और बाहर खड़े होकर सिगरेट, गुटखा, तंबाकू और अन्य नशीले पदार्थों का सेवन करते हैं। इतना ही नहीं वह लोग, कॉलोनी में आने जाने वाले प्रत्येक व्यक्ति से झगड़ा करते हैं और महिलाओं, बच्चियों के साथ छेड़खानी करते हैं। जिस कारण हमारी कॉलोनी के बाहर आए दिन झगड़ा इत्यादि होता है। जिससे परेशान होकर मैंने आपको यह पत्र लिखा है।

मेरा आपसे निवेदन है कि कृपा आप जल्द से जल्द बाहर से आने वाले इन खुरापाती तत्वों के खिलाफ कार्यवाही करें। ताकि हमारे कॉलोनी के युवाओं को नशे के इस दलदल से बचाया जा सके।

हम इस मामले में आपकी त्वरित कार्यवाही के लिए सदैव आपके आभारी रहेंगे।

धन्यवाद।

Rate this post
अपने दोस्तों को share करे:

Leave a Comment