देश में कोरोना नामक महामारी का प्रकोप फैला हुआ है आपके आसपास के लोग लॉकडॉउन के नियमों का पालन नहीं कर रहे है जिससे यह बीमारी बढ़ रही है पत्र लिखिए।

सेवा में,
जिला अधिकारी महोदय,
सूरत।

विषय- लॉकडॉउन के नियमों का पालन न करने के कारण।

महोदय,
मेरा नाम सुमित शर्मा है। मैं लोकल कॉलोनी, अशोक धाम रोड, सूरत का निवासी हूं। इस पत्र के माध्यम से मैं आपको सूचित करना चाहता हूं कि मेरी कॉलोनी में रहने वाले कई व्यक्ति सरकार द्वारा जारी किए गए लॉकडॉउन के नियमों का पालन भली भांति नहीं कर रहे हैं। आप जानते ही है कि सरकार द्वारा लॉकडॉउन की व्यवस्था हम सभी जनता को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए की गई है। यदि लाकडाउन नहीं लगाया जाएं तो यह महामारी थमने का नाम नहीं लेगी। लोग जब एक दूसरे के संपर्क में आएंगे तो यह संक्रमण और तेजी से बढ़ने लगेगा। परंतु मेरे घर के आसपास रहने वाले लोगों द्वारा लॉकडॉउन के नियमों का पूर्ण रूप से उल्लंघन किया जा रहा है।

ऐसे व्यक्ति घर से बाहर निकलते समय मास्क का प्रयोग नहीं कर रहे हैैं। तथा एक जुट होकर कॉलोनी में खड़े होकर वार्तालाप करते हैं। लॉकडॉउन के गाइडलाइन के अनुसार, किसी भी दुकानदार को दुकान खोलने की अनुमति नहीं है। परंतु मेरे आसपास स्थित कई दुकानें रोज खोलती है जिससे वहां लोगों की भीड़ इक्कठी हो जाती है। यह लोग बिना मास्क के दुकान से समान लेते है तथा दुकानदारों द्वारा भी इन्हें लापरवाही से समान दे दिया जाता है।
मेरे आसपास के कई परिवार रोज शाम सैर सपाटे के लिए घर से निकलते है तथा साथ ही अपने बच्चों को भी घर से बाहर खेलने की इजाजत दे देते है। मैंने कई बार विभिन्न प्रकार से इन लोगों को समझाने का प्रयास किया कि यह बीमारी अत्यंत भयावह है, इससे आपकी जान को भी खतरा है किन्तु इनके द्वारा मेरी बातों पर किसी भी प्रकार का ध्यान नहीं दिया गया। यह लापरवाही इन तमाम लोगों के साथ साथ हमारे लिए भी खतरे का संकेत है।

अतः मेरा आपसे निवेदन है कि आप मेरे आसपास के इलाके में सख्त नियमों का आदेश दें। तथा जिनके द्वारा लॉकडॉउन के नियमों का पालन नहीं किया जा रहा हो उनके प्रति कारवाई करने का निश्चित कदम उठाया जाएं।
धन्यवाद।

प्रार्थी,
सुमित शर्मा,
लोकल कॉलोनी,
सूरत।

Rate this post
अपने दोस्तों को share करे:

2 thoughts on “देश में कोरोना नामक महामारी का प्रकोप फैला हुआ है आपके आसपास के लोग लॉकडॉउन के नियमों का पालन नहीं कर रहे है जिससे यह बीमारी बढ़ रही है पत्र लिखिए।”

  1. बहुत अच्छी बात है की आधुनिक विषयों पर भी पत्र लिखे है।

    Reply

Leave a Comment