विदेश यात्रा पर जाने वाले मित्र को बधाई पत्र लिखिए।

181, साकेत
प्रयागराज
दिनांक. 15/04/2022

प्रिय मित्र,
राजीव
सप्रेम नमस्कार।

उम्मीद करता हूं कि तुम और तुम्हारे घर में सभी लोग कुशल होंगे। मुझे तुम्हारा पत्र कल ही प्राप्त हुआ। जिसके माध्यम से यह जानकर अति प्रसन्नता हुई कि तुम एमबीबीएस की शिक्षा प्राप्त करने हेतु विदेश जा रहे हो। अपने भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए बेहद उचित निर्णय लिया है। इस निर्णय से तुम्हारे साथ-साथ मेरे लिए भी हर्ष और गौरव की बात है। मुझे यह कहते हुए गर्व होता है कि तुम मेरे मित्र हो। इस स्वर्णिम अवसर पर मेरी बधाई स्वीकार करो। मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि तुम इसी प्रकार उन्नति की सीढ़ियां चढ़ते चले जाओ और अपने माता-पिता के नाम को उज्जवल करो।

मैं इस वर्ष वकालत की पढ़ाई कर रहा हूं। तुम जानते हो कि मैं इसी क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहता हूं। परंतु तुम्हारे विदेश जाने की खबर सुनकर मुझे अत्यंत प्रसन्नता हुई। जल्द ही तो वहां से अपनी पढ़ाई पूरी करके जब आओगे, तो जी भर कर बातें करेंगे। तुम विदेश में अपना ख्याल रखना तथा आगे की पढ़ाई के लिए हार्दिक शुभकामनाएं।

अपने माता-पिता जी को मेरी ओर से सादर प्रणाम करना।

तुम्हारा अभिन्न मित्र,
राजगोपाल।

4.3/5 - (24 votes)
अपने दोस्तों को share करे:

Leave a Comment