अपने जन्मदिवस का उपहार भेजने के लिए अपने चाचा जी को आभार पत्र लिखिए।

प्रेमनगर,
दिल्ली – 7
दिनांक – 05/07/20**

परम पूज्य चाचा जी,

सादर प्रणाम!

आज ही आपका स्नेह पूर्ण पत्र मिला। यह जानकर अत्यंत हर्ष हुआ कि आप स्वस्थ और सानन्द हैं। तथा मेरे छोटे प्रिय भाई ने अपनी परीक्षाओं में बेहतर प्रदर्शन किया है।

पूज्यवर, पत्र के साथ ही मेरे जन्म दिवस के उपलक्ष्य में आपके द्वारा भेजी गई उपहार स्वरूप घड़ी भी प्राप्त हो गई है। जिसकी मुझे अत्यंत आवश्यकता भी थी। इधर, परीक्षा के दिन निकट आ रहे हैं, उधर मुझे समय का ठीक जानकारी न होने से विद्यालय पहुंचने में देरी हो जाती थी। इस कारण अनुपस्थिति भी लग जाती थी, साथ ही अध्यापक की भी डांट सहनी पड़ती है। अब घड़ी के रहने पर मैं विद्यालय में यथा समय पर पहुंच ही जाऊंगा। फिर मेरे अन्य सभी कार्य भी निर्धारित समय पर हो सकेंगे। ऐसा उपयुक्त और सुंदर उपहार भेजने के लिए मैं आपका अत्यंत आभारी रहूंगा। और आपका हार्दिक धन्यवाद देता हूं। विश्वास है कि आप सदैव अपने स्नेह पूर्ण आशीर्वाद से इसी प्रकार कृतार्थ करते रहेंगे। पूज्य पिताजी व माता जी आपको और चाची जी को आशीर्वाद कहते हैं।

मेरी ओर से पूज्य चाची जी को प्रणाम और छोटे भाई को शुभ चिरंजीवी कहें।

शेष सब कुशल रहे!

आपका प्रिय भतीजा,
रमेश।

अपने दोस्तों को share करे:

Leave a Comment